Thursday, April 24, 2014

@all right reserved

खर्च हो जाएँगी मेरी  
सभी उम्मीदे एक दिन
 

तू न आया है न आएगा 
फिर भी तेरा इंतजार है
 

दिल को मुझ पर यकीं नहीं 
मगर तुझ पर ऐतबार है
 

शायद इसी को इश्क़ कहते है 
शायद इसी का नाम प्यार है